Tantraveda.net buy button

आपने भी कई बार किसी कहानी या फिल्मों में नागमणि के बारे में सुना होगा। कथाओं के अनुसार नागमणि बहुत शक्तिशाली होती है, लेकिन आमतौर पर एक बात लोगों के मन में चलती रहती है कि क्या नागमणि हकीकत में है। अगर आपके मन में भी यही सवाल उठता है तो इसका जवाब आपको वृहत्ससंहिता में बताई इन बातों से मिलेगा।

क्या है नागमणि का सच
Yes nagmani really exists. My family have one from centuries. I wanted to post a picture of it but sadly our family traditions do not allow it. However, if you want to see it you can come to my home and see it but, be aware that seeing a nagmani on which you have no right can have dire consequences as there are powerful snakes who protect it from evil eyes.

WHERE IT IS FOUND?
Nagmani is a gem which is found in the nests of Naags and King Cobras, who were able to live for hundreds of years and were said to become Icchadhari Naag (Shape Shifting Cobra).

It’s the life force or Energy of Naag from his Tapasya that forms that gem. It’s said to be so powerful that you can even conquer the whole world and it will grant your every wish. It’s some sort of Dragon Balls of India. And if you are Religious then you can believe in it. 

HOW LOCAL SNAKE CHARMERS FOOL PEOPLE?
What the snake charmers do is they cut open a slit in the cobras head and put in a fake black stone and leave it to roam around a area then behold them with a great pomp and show, cut open a healed wound with a stone already inside and remove it . It appears that they have caught a random snake and removed a gemstone from its skull which dazzle even a most discerning observer leave alone a gullible one. BUT THE FACT IS THAT NAAG MANI EXISTS IN THE NESTS OF THE SNAKES WHERE THOUSANDS OF SNAKES BREED IN GROUPS. IT IS NOT IN THEIR HEADS.

POWERS OF NAGMANI
Mythologically, naag mani is a very powerful gem with its powers coming directly from Lord Shiva. It was given to Vasuki, the Snake God residing in Shiva’s neck.

It is believed that the naag mani can provide from anything to everything to its possessor. Thus it is said that it is hidden somewhere deep in their NESTS and is heavily guarded by snakes.

Tantraveda.net buy button

PROOF THAT NAAG MANI EXISTS
किताबों और फिल्मों में नाग मणि के बारे में आपने खूब सुना, देखा होगा…। हम आपको एक ऐसे स्थान की जानकारी दे रहे हैं, सचमुच नागमणि पाई जाती थी और इस नाग मणि को पाने लिए लोग यहां आते भी थे। यह स्थान है नागोताल..। उमरिया से 35 किलोमीटर दूर नौरोजाबाद के पास स्थित नागोताल म सांपों के कई झुंड पाए जाते थे। कई नाग मणि युक्त भी थे। यह बात अलग है कि उनकी मणि को कोई प्राप्त नहीं कर पाया। सांपों के आते ही दहशत में लोग भाग खड़े होते थे।

WHAT HAPPENS IF SOMEBODY HAS NAGAMANI? ITS EFFECTS & EXISTANCE
मैंने कई बार नागमणि के बारे में अपने दादा जी से सुना है, कई बार उन्होंने इसको लेकर कई कहानियाँ भी बताई थीं। हालांकि यह सभी कहानियां जनश्रुति के आधार पर थी पर सुनने में हमेशा एक अजीब सी सरसराहट पैदा करती थीं। नागमणि के बारे में कहा जाता है कि यह जिसके हाथ लग जाती है, उसकी किस्मत रातोंरात बदल जाती है। लेक‌िन वृहत्ससंह‌िता में नागमण‌ि के बारे में कई रोचक बातें बताई गई हैं। जो इस बात को सोचने पर व‌िवश करता है क‌ि क्या वास्तव में नागमण‌ि होता है। वृहत्संह‌िता में नागमण‌ि के बारे में कई बातें कही गई हैं।

-वृहत्ससंह‌िता में वराहम‌िह‌िर बताते हैं कि ज‌िस राजा के पास यह मण‌ि होती है वह शत्रुओं पर व‌िजय प्राप्त करने वाले होते हैं।
-इनके राज्य में समय से वर्षा होती और प्रजा खुशहाल रहती है। वराहम‌िह‌िर इस तरह की बात इसलिए ल‌‌िखते हैं कि उन द‌िनों राजा- महाराजा हुआ करते थे।
 
आपको बता दें कि वैज्ञानिक इस बात को स्वीकारते हैं कि नाग मणि होती है। वे इसको एक पत्थर के जैसा बताते हैं। उनके अनुसार नागमणि एक पत्थर होता है
 
जिसको कई प्रकार के कार्यों में यूज किया जा सकता है। नागमणि का महत्त्व ज्योतिष शास्त्र में भी है। बहुत से ज्योतिषी इसका प्रयोग ज्योतिषीय लाभ भी बताते हैं। आज के लोग इसके बारे में न तो पूरा सच जानते हैं और न ही इसको वास्तविकता में मानते हैं। बुजुर्गों की धारणा आज भी यही है कि नाग मणि हुआ करती है। 
अंधेरे में यह मणि हरे रंग का प्रकाश पैदा करती है। 

नागमणि के प्रमाण हमें कई प्राचीन ग्रंथों में भी मिलते हैं। इससे यह साबित होता है कि यह वास्तव में होती ही है। हमारे बहुत से ग्रंथों में इसका उल्लेख है तथा श्री गरुण पुराण में भी सर्प मणि का उल्लेख किया गया है। इन ग्रंथों में बताया गया है कि इस को यदि गले में धारण किया जाए तो इससे मानव का दुर्भाग्य सौभाग्य में बदल जाता है। वराहमिहिर के ग्रंथों के मुताबिक जो राजा ऐसी मणि को गले में धारण करता है वह सदैव खुश रहता है तथा उसकी प्रजा भी संतुष्ट रहती है। इस प्रकार का राजा सदैव विजय प्राप्त करता है।

वृति सिमिता नामक ग्रंथ में भी इसका उल्लेख है। इस ग्रंथ में कहा गया है कि नाग मणि एक प्रकार का दुर्लभ पत्थर होता था। वैज्ञानिक यह मानते हैं कि जैसा फिल्म आदि में दिखाया जाता है वैसी कोई नागमणि नहीं होती है|

Tantraveda.net buy button