करोड़पति बना देती है बिल्ली की गर्भ नाल,पाने के लिए करें यह जतन

Tantraveda.net buy button
To Buy Genuine Billi Ki Jer Online, visit the following link:
http://tantraveda.net/billi-ki-jer

यदि आप मालामाल होने के लिए कई जतन कर चुके हैं और अभी तक सफलता हाथ नहीं लगी तो यह उपाय भी करके देखें शायद आपकी किस्मत बदल जाए और आप भी धनवान हो जाएं। हम बता रहे हैं बिल्ली की गर्भनाल के बारे में जिसके बारे में कहा जाता है कि यह बड़ी मुश्किल से औेर किस्मत वालों को ही मिलती है पर जिसके हाथ लग जाती है उसकी कंगाली दूर हो जाती है और वह हो जाता है मालामाल।   जब पालतू बिल्ली का प्रसव काल निकट हो तो उस पर नजर रखें और उसके रहने और खाने की ऐसी व्यवस्था करें कि वह आपके कमरे में ही रहे। वैसे पालतू  बिल्लियां घरों में कुर्सी, बिस्तर और मालिक की गोद तक में  बैठी रहती हैं।  जिस समय वह बच्चों को जन्म दे रही हो, सावधानी से उसकी रखवाली करें। बच्चों को जन्म देने के तुरंत बाद ही उसके पेट से नाल (झिल्ली) निकलती है। यह पॉलिथीन की थैली की तरह पारदर्शी लिजलिजी, रक्त और पानी के मिश्रण से तर होती है। इसे नाल या आँवल कहा जाता है। स्वभावत:  बिल्ली उसे तुरंत खा जाती है अत:  जैसे ही बिल्ली के पेट से नाल बाहर आए, उस पर कपड़ा ढंक दें जिससे बिल्ली उसे तुरंत खा नहीं सकेगी। प्रसव के दौरान बिल्ली कुछ शिथिल  रहती है, इसलिए तेजी से झपट नहीं सकती। अब किसी तरह  उसकी नाल उठा लें और सावधानी से सुखा लें।<


धूप में सुखाते समय  उसकी रखवाली जरूरी है अन्यथा कौआ, चील, कुत्ता आदि कोई भी उसे उठाकर ले जा सकता है। तेज धूप में दो-तीन दिनों तक रखने से वह चमड़े की तरह सूख जाएगी। सूख जाने पर उसके चौकोर टुकड़े दो या तीन वर्ग इंच के कर लें और उन पर हल्दी लगाकर रख दें। हल्दी का चूर्ण अथवा लेप कुछ भी लगाया जा सकता है। इस प्रकार हल्दी लगाया हुआ बिल्ली की नाल का टुकड़ा लक्ष्मी यंत्र का अचूक घटक होता है।

इस तरह करें सिद्ध
तंत्र साधना के लिए किसी शुभ मुहूर्त में स्नान-ध्यान कर शुद्ध स्थान पर बैठ जाएं और हल्दी लगा हुआ नाल का सीधा टुकड़ा बाएं हाथ में लेकर मु_ी बंद कर लें और लक्ष्मी, रुपया, सोना, चांदी अथवा किसी आभूषण का ध्यान करते हुए 54 बार यह मंत्र पढ़ें- मर्जबान उल किस्ता। इसके बाद उसे माथे से लगाकर अपने संदूक, तिजोरी, बैग या जहां भी रुपए-पैसे या जेवर रखते हों वहां रख दें। देखा गया है कि इससे कुछ ही समय बाद आश्चर्यजनक रूप से श्री-सम्पत्ति की वृद्धि होने लगती है। इस नाल यंत्र का प्रभाव विशेष रूप से धातु लाभ सोना-चांदी की प्राप्ति कराता है।

Billi ki Jer

error: Content is protected !!